Saturday, September 30, 2017

औरत-आदमी के तिल होना | TIL VICHAR


औरत - आदमी के विभिन्न अंगो पर तिल होने का प्रभाव क्या होता है 
हम सभी जानते हैं कि हमारे शरीर पर कई प्रकार के जन्मजात अथवा जीवनकाल के दौरान निकले निशान होते हैं। जिसे हम तिल एवं मस्सा कहते हैं। ये तिल और मस्से हमारे भविष्य और चरित्र के बारे में दर्शाते हैं। शरीर पर तिल हो तो मनुष्य को यह जानने की जिज्ञासा होती है कि इसका क्या अर्थ है…? आइये जानते हैं शरीर के विभिन्न अंगों पर पाए जाने वाले तिलों के बारे में…
औरत के विभिन्न अंगो पर तिल

जानें इन तिल का मतलब:  

ललाट पर तिल होने का मतलब
  • माथे के बीचों-बीच में होना मतलब मिर्मल प्रेम की निशानी है।
  • ललाट पर दायीं ओर तिल धन वृद्धिकारक का सूचक है।
  • वहीं बायीं ओर घोर निराशापूर्ण जीवन का सूचक है।

कान पर तिल होने का मतलब

  • दाएं कान पर तिल- जिन लोगों के दाएं कान पर तिल होता है वह कम उम्र में ही धनवान हो जाते हैं।
  • इतना ही नही व्यक्ति का जीवनसाथी भी सुंदर होता है।
  • बाएं कान पर तिल- जिन लोगों के दाएं कान पर तिल होता है, उनमें रहस्यमयी होने के गुण को दर्शाता है।
  • ऐसे लोगों का विवाह अधिक उम्र होने के पश्चात् होता है।
  • बाएं कान के पीछे की तरफ़ तिल होना व्यक्ति के गलत कार्यों के प्रति झुकाव को दर्शाता है।

होंठ पर तिल होने का मतलब

  • अगर ऊपरी होंठ के दायीं तरफ हो तो जीवनसाथी का पूर्ण साथ निलता है।
  • वहीं बायीं तरफ तिल होना जीवनसाथी के साथ लगातार विवाद होने का सूचक है।
  • निचले होंठ के दाएं तरफ तिल हो तो व्यक्ति अपने क्षेत्र में बहुत प्रसिद्धि प्राप्त करते हैं।
  • बायीं तरफ तिल होना किसी विशेष रोग के होने का सूचक होता है।
  • ऐसे व्यक्ति अच्छे खाने तथा नए कपड़े पहनने के शौकीन होते हैं।

पीठ पर तिल होने का मतलब

  • जिन लोगों के पीठ पर तिल होता है उनमें पीठ पीछे बुराई करने के लक्षण होते हैं।
  • अगर पीठ में तिल हो तो उस व्यक्ति का जीवन दतूसरों के सहयोग से चलता है।

पैर पर तिल होने का मतलब

  • दायीं पैर पर तिल- सीधे पैर में तिल होने का मतलब है कि उसे उद्देश्यपूर्ण यात्राएं करनी पड़ती है।
  • बायें पैर पर तिल- उल्टे पैर में तिल होने का मतलब है कि बिना किसी उद्देश्य के फालतू में करना।

Hastrekha Mein Tribujh Ka Matlab




Tribujh Aur Hast Rekha ( Meaning of Triangle In Palmistry )


Tribujh Jeevan Rekha Ya Aayu Rekha Par (Triangle On Lifeline)

Yadi vykti ke right hand ki lifeline ke starting mein triangle sign hai to aisa triangle us vykti ki bimari se suraksha karta hai bachpan mein aur yadi aisa triangle jeevan rekha ke end mein  health line se bana ho aise vykti ki mrityu lambi bimari ke baad hoti hai.  Yadi triangle lifeline ke center mein ho to aise vykti us tribujh ke karan rog-shok or mrityu ke bhay se chutkara paa leta hai.

Yadi vykti ke hath mein headline pr triangle hai to wo bahut shubh mana jata hai.  Agar headline ki starting mein triangle hai to bachpan mein wo vykti hosiyaar hota hai.  Yadi triangle fate line or headline se ban raha ho to aisa vykti dharmik karyo mein roochi leta hai. Yadi triangle health line or headline se ban raha ho to aise vykti ko mansik chinta bani rahati hai.

Yadi vykti ke hath mein heartline pr triangle surya rekha ki madad se ban raha hai to aisa vykti pratibhashaali hota hai.  Yadi hridya rekha pr tribhuj jeevan rekha se ban raha hai to aisa vykti dhanwan hota hai.  Yadi triangle heartline pr health line se ban raha hai to aise vykti ko blood se related disease hoti hai.

Yadi vykti ke hath mein triangle sun line pr hai to aise vykti ko kala ki field mein safalta milti hai.

Yadi vykti ke hath mein triangle fate line pr hai to aisa vykti jeevan mein ek jaisa jeevan jeena pasand karta hai.

Yadi vykti ke hath mein triangle health line pr hai to aise vykti ko lambi bimari ka samna karna padta hai.

Yadi vykti ke hath mein tringle mars line pr hai to aise vykti ka sahas dugna ho jata hai.

Yadi vykti ke hath mein triangle travel line pr hai to aise vykti yatra ke dauran durghatana ka samna karna padta hai lekin wo bach jata hai.

Ye bhi padein:-Tribhuj Parvato Aur Rekhao Par Kya Matlab Hota Hai


त्रिभुज का रेखाओ और ग्रहो पर प्रभाव | Hast Rekha Gyan


त्रिभुज की परिभाषा और फल

त्रिभुज - हम सभी जानते है की त्रिभुज या त्रिकोण तीन रेखाओ को मिल कर बनता है। त्रिभुज की तीनो रेखाय जितनी साफ़ और सुन्दर होगी उतना ही अच्छा फल मिलेगा। इसके विपरीत त्रिभुज की रेखाय यदि अस्पष्ट है तो व्यक्ति को उसका लाभ नहीं मिलता है।

palmistry hastrekha tribhuj

किसी भी जातक के हाथ में त्रिभुज का होना अत्यंत शुभ माना गया है। ऐसा व्यक्ति विवेकशील, दूरदर्शी, और क्रियाशील होता है।  त्रिभुज जिस भी क्षेत्र में होता है उस क्षेत्र के गुणों में वृद्धि कर देता है।


त्रिभुज का गुरु या बृहस्पति पर फल 

गुरु पर्वत पर त्रिभुज बहुत कम पाया जाता है।  फिर भी जिन हाथो में त्रिभुज गुरु पर्वत पर विद्यमान है वह व्यक्ति उच्चभिलाषी , सफल राजनीतिज्ञ , और धार्मिक गुरु बन सकता है। ऐसा व्यक्ति जनता का सेवक होता है और जनता के लिए कार्य करता है।

गुरु पर्वत पर त्रिभुज चिन्ह व्यक्ति को यश, मान-सम्मान , और विदेश यात्रा करवाता है।

त्रिभुज के दूषित हो जाने यानी किसी रेखा से इसको काट दिया जाय तो इसके फल में कमी आ जाती है और व्यक्ति घमंडी हो जाता है।


त्रिभुज का शनि पर्वत पर फल 

यदि किसी व्यक्ति के हाथ में  छोटा सा त्रिभुज शनि पर्वत पर सुन्दर साफ़ स्पष्ट तथा निर्दोष रूप से विद्यमान हो तो वह व्यक्ति तंत्र विद्या में माहिर होता है।  ऐसा व्यक्ति तांत्रिक, ज्योतिष, गुप्त विद्याओ को सीखने वाला होता है। ऐसा व्यक्ति लाटरी, जुए का भी शौकीन होता है।

अगर यही त्रिभुज दूषित हो जाय तो व्यक्ति ठग बन जाता है और लोगो को लूटने का काम करता है।


त्रिभुज का रवि या सूर्य पर्वत पर फल 

यदि किसी व्यक्ति के हाथ में त्रिभुज रवि पर्वत के नीचे या क्षेत्र पर है तो ऐसा व्यक्ति धार्मिक, परोपकारी , समाजसेवक, कुशल वैध, अच्छा चित्रकार, कलाकार और प्रतिभा का धनि होना है।

ऐसा व्यक्ति हर कार्य में सफलता ही प्राप्त करता है और जो इसके साथ जुड़ते है उनका भी भला हो जाता है।

यदि त्रिभुज दूषित है तो व्यक्ति को अपयश मिलता है और वो ज्यादातर उसकी कला से सम्बंधित ही होता है।


त्रिभुज का बुध पर्वत पर फल 

यदि त्रिभुज पर्वत पर है तो व्यक्ति को साइंस में रुचि रहती है।  ऐसा व्यक्ति सफल व्यापारी होता है। अच्छा वकील, प्रवक्ता होता है। अच्छा कूटनीतिज्ञ और सलाहकार होता है। लेकिन ऐसे लोग पैसा जोड़ नहीं पाते है और खर्च कर देते है। 

यदि त्रिभुज कटा हुआ या टूटा हुआ है तो वह व्यक्ति सिर्फ बातो का राजा होता है और असल जिंदगी में कुछ हासिल नहीं कर पता है कारण वह सिर्फ टाइम पास करता है।


त्रिभुज का चंद्र पर्वत पर फल 

यदि त्रिभुज चंद्र क्षेत्र में है तो वह व्यक्ति काल्पनिक होता है।  ऐसा व्यक्ति अच्छा चित्रकार , दस्तकार , मूर्तिकार , प्रकृति से प्रेम करने वाला और मिलनसार होता है। अपने हुनर से नाम बनाता है।

यदि ये त्रिभुज अच्छा नहीं है तो वह व्यक्ति शेख़चिल्ली की भांति बन कर रह जाता है और जगह जगह अपना उपहास बनवाता फिरता है। 


त्रिभुज का केतु पर्वत पर फल

केतु क्षेत्र पर त्रिभुज अत्यंत लाभकारी होता है ऐसे में व्यक्ति को बाल्यकाल से भी सबकुछ प्राप्त होने लगता है। पैतृक सम्पति का सुख मिलता है और परिवार के नाम और हैसियत का बहुत लाभ मिलता है।

लेकिन खराब त्रिभुज होने पर बचपन भी नीरसता से गुजरता है और पैतृक सम्पन्ति होते हुए भी नहीं मिलती है।


त्रिभुज का जीवन रेखा या आयु रेखा पर फल

यदि किसी मनुष्य के दाहिने हाथ की जीवन रेखा के आरम्भ में त्रिभुज का चिन्ह स्पष्ट और सुन्दर और साफ़ है तो उस समय ऐसा त्रिभुज उस व्यक्ति की प्राणो की रक्षा करता है।  ऐसा व्यक्ति बचपन में बीमार होता है लेकिन त्रिभुज उसको अच्छा स्वास्थ्य प्रदान करता है मतलब बीमार होने पर भी व्यक्ति में ऊर्जा बनी रहती है।  ऐसे व्यक्ति की मृत्यु लम्बी बीमार के पश्चात ही होती है।


त्रिभुज का शीश रेखा या मस्तक रेखा पर फल

शीश रेखा पर त्रिभुज को सबसे भाग्यशाली माना गया है।  ऐसा व्यक्ति अपने दिमाग के दम पर बहुत अच्छी तरक्की करता है और बहुत नाम और पैसा बनाता है।

ऐसा व्यक्ति बिज़नेस और नौकरी में बहुत बड़ी ओहदे पर होता है। ऐसे व्यक्ति के पास काफी बैंक बैलेंस और प्रॉपर्टी होती है।

लेकिन यदि त्रिभुज दूषित है तो व्यक्ति को चिंता लगी रहती है और आय से ज्यादा व्यय होता है।


त्रिभुज का हृद्य रेखा पर फल

 यदि त्रिभुज हृदय रेखा या हृदय रेखा पर बन रहा तो व्यक्ति को जीवन के अंतिम क्षणों में लाभ प्राप्त होता है। ऐसा व्यक्ति मध्य आयु के पश्चात अमीर बनता है।  ऐसा व्यक्ति बहुत पढ़ा -लिखा होता है।

यदि त्रिभुज दोषयुक्त है तो व्यक्ति को हृद्यघात होता है और ऐसे व्यक्ति को प्रेम में निराशा की वजह से दुःख और पीड़ा उठानी पड़ती है।


त्रिभुज का रवि  रेखा या सूर्य रेखा पर फल

यदि किसी मनुष्य के दाहिने हाथ में अनामिका ऊँगली के तृतीया पोरे के साथ रवि रेखा पर कोई त्रिभुज बन जाय तो व्यक्ति को लेखन में सफलता मिलती है।  किन्तु ख्याति अंतिम समय में मतलब बहुत लेट मिलती है। ऐसे व्यक्ति एकाकी जीवन जीते है।

त्रिभुज अच्छा न होने पर ऐसे व्यक्ति मुफत होते है और हठी होते है और अपने हाथो ही अपना कैरियर खत्म कर लेते है।

नोट: बाकी सभी क्षेत्रो और रेखाओ का विवरण जल्द दिया जायगा। 

त्रिभुज का स्वास्थ्य रेखा पर फल

त्रिभुज का विवाह रेखा पर फल

त्रिभुज का यात्रा रेखा पर फल

त्रिभुज का चंद्र  रेखा पर फल

त्रिभुज का मंगल रेखा पर फल

त्रिभुज का सुमन रेखा व प्रभाव रेखाओ पर फल

जीवन रेखा का स्थान और अर्थ | Indian Palmistry


जीवन रेखा का स्थान और अर्थ


jeevan rekha life lineहथेली में जीवन रेखा ( लाइफ लाइन ) तीन प्रमुख लाइनों में से एक है ( दूसरी दो प्रमुख रेखा मस्तक रेखा और हृदय रेखा है ) यह अंगूठे और तर्जनी के बीच हथेली के किनारे से शुरू होती है और अंगूठे के आधार तक फैली हुई होती है। आप तस्वीर से अपने हाथ में जीवन रेखा का स्थान देख सकते हैं। अंग्रेजी में इसको Life Line बोलते है। 

अधिकांश लोग सोच सकते हैं कि इस लाइन का उपयोग व्यक्ति के जीवन की अवधि को देखने के लिए किया जाता है। यह एक आंशिक समझ है वास्तव में, यह मुख्य रूप से व्यक्ति की शारीरिक जीवन शक्ति और जीवन ऊर्जा को दर्शाती है। इसके अलावा, यह दर्शाती है कि पूरे जीवन के दौरान व्यक्ति को दुर्घटनाएं या गंभीर बीमारियां होंगी या नहीं होगी और किस उम्र में होगी। 

यदि जीवन रेखा (लाइफ लाइन) हथेली में नहीं हो : अगर आपकी हथेली में दूसरी रेखाय स्पष्ट है और केवल लाइफ लाइन अनुपस्थित है, तो यह एक अच्छा संकेत नहीं है यह एक खराब  स्वास्थ्य और एक कमज़ोर जीवन को इंगित करता है और आप अपने  पूरे जीवन के दौरान बीमार रोगग्रस्त जीवन व्यतीत करें या दुर्घटनाएं अधिक होंगी आपके जीवन में जिनकी वजह से आपका स्वास्थ्य खराब रहेगा । 

● लंबी, गहरी, निविदा और गुलाबी जीवन रेखा का अर्थ है कि आप रोग के प्रति अत्यधिक प्रतिरोधी हैं। इसके विपरीत, लघु जीवन रेखा से पता चलता है कि आप बीमारी के लिए अतिसंवेदनशील हैं।

● एक मोटी और स्पष्ट जीवन रेखा यह इंगित करती है कि आप शारीरिक श्रम के जीवन के लिए उपयुक्त हैं और खेल में अच्छे हैं। इसके विपरीत, एक उथले और अस्पष्ट रेखा से पता चलता है कि आप में शारीरिक क्षमता की कमी हैं।

● अंगूठे के आस-पास के चारों ओर एक अर्धचंद्राकर जीवन रेखा से पता चलता है कि आप शक्ति और ऊर्जा से परिपूर्ण हैं। इसके विपरीत, यदि रेखा तंग है जो सीधे अंगूठे के करीब चिपक जाती है, तो यह भविष्यवाणी की जा सकती है कि आपके पास सीमित ऊर्जा है और थका हुआ महसूस करते है और नीरस जीवन होना चाहिए । 





● दोगुनी या दोहरी जीवन रेखा : यदि आपके हाथ में लाइफ लाइन के साथ समानांतर चलने वाली एक दूसरी रेखा है, तो यह बतलाती है कि आपके पास बहुत अच्छी जीवन शक्ति है। विशेष रूप से, बीमारी के बाद आप स्वयं ठीक होने के लिए एक मजबूत प्रतिरोध है। 



● श्रृंखलित: एक जंजीरनुमा जीवन रेखा यह इंगित करती है कि आप खराब स्वास्थ्य के साथ पैदा हुए थे। आप ख़राब स्वास्थ्य से पीड़ित होंगे, खासकर  कमजोर पाचन तंत्र रहेगा । 

● द्वीप: यदि जीवन रेखा पर एक द्वीप है, तो यह निश्चित समय में बीमारी, दुर्घटना या अस्पताल में भर्ती का संकेत देता है। द्वीप का आकार रोग की गंभीरता और अवधि को दर्शाता है। 

टूटी हुई जीवन रेखा का मतलब 

एक टूटी जीवन रेखा एक अप्रत्याशित दुर्घटना, खतरे, आपदा या बीमारी को दर्शाती है। टूटा हुआ भाग जितना बड़ा होगा, उतना ही लम्बी बीमारी चलेगी।

● यदि दो टूटे हुए भागों को ओवरलैप होता है, तो आप गंभीर बीमारी के बावजूद ठीक हो सकते हैं अतिव्यापी लंबाई पुनर्प्राप्ति समय दिखाती है। 

● यदि टूटी जीवन रेखा के साथ समानांतर जीवन रेखा के ऊपर या नीचे या दो हिस्सों को जोड़ने वाला वर्ग है, तो आप आमतौर पर खतरा होने पर भी सुरक्षित रह सकते हैं और गंभीर रूप से गंभीर बीमारियों से ग्रस्त होने के बावजूद ठीक हो सकते है ।

जीवन रेखा की शाखाएं, प्रभाव रेखा और चिन्ह 

● अगर जीवन रेखा के ऊपर की ओर एक शाखा है, तो यह दिखाती है कि आप मेहनती, आशावादी, सकारात्मक और ज्ञान प्राप्त करने के लिए ललायित रहते हैं। आप जीवन के दौरान प्रसिद्धि और प्रतिष्ठा प्राप्त कर सकते हैं। 

● अगर कई ऊंची शाखाएं हैं, तो यह दिखाता है कि आप महत्वाकांक्षी हैं और उच्च आदर्श के व्यक्ति हैं लेकिन बहुत रेखाएं दिखाती हैं कि आप सपने देखने वाले हैं और आप जमीन पर पैर नहीं रख सकते हैं फलस्वरूप सफलता में कमी आती है । 

● अगर जीवन रेखा के अंत में कई नीचे की शाखाएं हैं, तो यह इंगित करता है कि आपकी शारीरिक स्थिति में गिरावट आ रही है। इसके अलावा, आप हमेशा थका हुआ और अकेला महसूस कर सकते हैं। 

● यदि जीवन रेखा के अंत को पार करने वाले विकर्ण होते हैं, तो इसका मतलब है कि आप बाद के वर्षों के दौरान बीमारी से पीड़ित होंगे। 

● जीवन रेखा के मध्य भाग से स्पष्ट शाखा नीचे की ओर विभाजित होने का मतलब है कि आप अपने परिवार के साथ अलग रहना और विदेश में रहना चाहते है। 

● जीवन रेखा के अंत में छोटी रेखा निकली होना, इसका मतलब है कि आप में अच्छी प्राणशक्ति रहेगी। यदि आप अपने कैरियर को बाहर विकसित करना चुनते हैं, तो आप कुछ उपलब्धि हासिल कर सकते हैं। 

गुच्छा या झाडनुमा आकृति होना : जीवन रेखा के शुरू होने पर गोपुछ होना जन्म में खराब स्वास्थ्य और पारिवारिक समस्या को दर्शाता है और अंत में होने पर वृद्धावस्था के दौरान एक अकेला जीवन को इंगित करता है या फिर खराब स्वास्थ्य रहता है। 

जीवन रेखा पर क्रॉस, और सितारे , छोटी रेखाओ से कटना 






जीवन रेखा को छोटी रेखाओ का काटना और क्रॉस होना  

जीवन रेखा पर क्रॉसिंग या जीवन रेखा में कटौती करने वाली स्पष्ट रेखाओं से पता चलता है कि आपके जीवन में अनपेक्षित खतरों, बीमारी या दुर्घटनाएं हो सकती हैं अधिक स्पष्ट क्रॉस या छोटी लाइनें हैं, स्थिति आप से भी बदतर है। 

जीवन रेखा को काटने वाली कई छोटी रेखाय 
यदि जीवन रेखा के अंदर से कई रेखाएं काट कर पार होती हैं, तो यह दर्शाता है कि आपको आमतौर पर बहुत अधिक चिंताएं होती हैं, यह एक खराब स्वास्थ्य की स्थिति है या जीवन के दौरान अनगिनत कठिनाइयों से झूझना पड़ता है। 

जीवन रेखा पर तारा होना 
एक तारा तीन से चार छोटी लाइनों से बना होता है, यदि यह जीवन रेखा पर प्रकट होता है, तो यह बीमारी को इंगित करता है यदि स्टार आपकी टूटी हुई जीवन रेखा पर दिखाई देता है, तो आपको अचानक गंभीर बीमारी से पीड़ित होना पड़ सकता है। 

नितिन कुमार पामिस्ट 



PALM READING SERVICE



Send Me Your Palm Images For Detailed & Personalized Palm Reading


Question: I want to get palm reading done by you so let me know how to contact you?
Answer: Contact me at Email ID: nitinkumar_palmist@yahoo.in.


Question: I want to know what includes in Palm reading report?

Answer: You will get detailed palm reading report covering all aspects of life. Past, current and future predictions. Your palm lines and signs, nature, health, career, period, financial, marriage, children, travel, education, suitable gemstone, remedies and answer of your specific questions. It is up to 4-5 pages.



Question: When I will receive my palm reading report?

Answer: You will get your full detailed palm reading report in 9-10 days to your email ID after receiving the fees for palm reading report.



Question: How you will send me my palm reading report?

Answer: You will receive your palm reading report by e-mail in your e-mail inbox.



Question: Can you also suggest remedies?

Answer: Yes, remedies and solution of problems are also included in this reading.


Question: Can you also suggest gemstone?

Answer: Yes, gemstone recommendation is also included in this reading.


Question: How to capture palm images?

Answer: Capture your palm images by your mobile camera or you can also use scanner.


Question: Give me sample of palm images so I get an idea how to capture palm images?

Answer: You need to capture full images of both palms (Right and left hand), close-up of both palms, and side views of both palms. See images below.



Question: What other information I need to send with palm images?

Answer: You need to mention the below things with your palm images:- 



  • Your Gender: Male/Female 
  • Your Age: 
  • Your Location: 
  • Your Questions: 

Question: How much the detailed palm reading costs?

Answer: Cost of palm reading:


  • India: Rs. 600/- 
  • Outside Of India: 20 USD

( For instant palm reading in 24 hours you need to pay extra Rs. 500 or 15 USD ) 
(India: 600 + 500 = Rs. 1100/-)
(Outside Of India: 20 + 15 = 35 USD) 

Question: How you will confirm that I have made payment?

Answer: You need to provide me some proof of the payment made like:

  • UTR/Reference number of transaction. 
  • Screenshot of payment. 
  • Receipt/slip photo of payment.

Question: I am living outside of India so what are the options for me to pay you?

Answer: Payment options for International Clients:

International clients (those who are living outside of India) need to pay me 20 USD via PayPal or Western Union Money Transfer.

  • PayPal (PayPal ID : nitinkumar_palmist@yahoo.in)
    ( Please select "goods or services" instead of "personal" )
  • PayPal direct link for $20 (You will get reading in 9/10 days) - PayPal Payment 20 dollars
    PayPal direct link for $35 (You will get reading in 24 hours) - PayPal Payment 35 dollars
  • Western Union: Contact me for details.

Question: I am living in India so what are the options for me to pay you?


Answer: Payment options for Indian Clients:

  • Indian client needs to pay me 600/- Rupees in my SBI Bank via netbanking or direct cash deposit.

  • SBI Bank: (State Bank of India)
       Nitin Kumar Singhal
       A/c No.: 61246625123
       IFSC CODE: SBIN0031199
       Branch: Industrial Estate
       City: Jodhpur, Rajasthan. 



  • ICICI BANK: 
      (Contact For Details)

Email ID: nitinkumar_palmist@yahoo.in




Client's Feedback - DECEMBER 2017



If you don’t have your real date of birth then palmistry is there to help you for future life predictions.  Our palm lines, signs, mounts and shapes which are very useful in predicting the person’s life. We can predict your future from the lines and signs of your both palms. We can predict your future by studying your palm lines and signs. There is no need to send us your date of birth , time of birth , place of birth etc . Palm told the personality ,future ups and downs thus a experienced palmist can guide you to deal with upcoming challenges with vedic remedies.